amazon

shopclues

myntra

Breaking News
Home / Tech / एंड्रॉयड फोन की स्पीड को बढ़ाना है आसान, अपनाएं इन तरीकों को

एंड्रॉयड फोन की स्पीड को बढ़ाना है आसान, अपनाएं इन तरीकों को

मौजूदा समय 1 बिलियन से ज्यादा लोग एंड्रॉयड फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं। इनमें से अधिकांश लोगों को उनके एंड्रॉयड डिवाइस के स्लो होने की शिकायत होती है। साथ ही, समय के साथ-साथ डिवाइस की स्पीड और भी धीमी होने की शिकायत आम हो जाती है। आपके एंड्रॉयड फोन की स्पीड कम होने के कई कारण हो सकते हैं। इसका मुख्य कारण फोन में कम मैमोरी, रैम और दूसरी समस्या जैसे कि वायरस भी हो सकते हैं। यहां हम आपकी इस समस्या का समाधान लेकर आए हैं। कुछ आसान तरीकों को अपनाकर आप भी अपने स्लो डिवाइस को मिनटों में फास्ट कर सकते हैं।

1. फोन के इंटरनल स्टोरेज को मैनेज करें

किसी भी एंड्रॉयड डिवाइस की खास चीज उसकी इंटरनल मैमोरी होती है। इसलिए कभी भी फोन को खरीदने से पहले उस स्मार्टफोन के स्टोरेज की जानकारी ले लें। हमेशा उस फोन को खरीदे जो ज्यादा इंटरनल स्टोरेज के साथ आते हैं।

Manage Your Internal Storage

2. ब्लॉटवेयर को रिमूव करें

अगर आपके डिवाइस में 2 जीबी से ज्यादा रैम है तो आपको ब्लॉटवेयर की चिंता करने की जरुरत नहीं है। लेकिन फोन में 2 जीबी से कम रैम है तो आप डिवाइस से ब्लॉटवेयर को रिमूव कर दें। ऐसा करने से आपके फोन की क्षमता और बढ़ेगी और डिवाइस की स्पीड भी बढ़ेगी।

3. एप और सिस्टम कैशे को क्लियर करें

जिन एप्स का इस्तेमाल आप रोजाना करते हैं उनके कैशे तैयार होने लगते हैं। ये कैशे आपके फोन के स्टोरेज को कम कर देते हैं। इसके अलावा, इन कैशे की वजह से आपके डिवाइस की स्पीड भी कम होती जाती है। ऐसे में यह जरुरी होता है कि अपने फोन स्टोरेज में जाकर समय-समय पर कैशे को क्लियर या डिलीट करते रहें। ऐसा करने से आपके डिवाइस की स्पीड बढ़ेगी।

Clear Apps And System Cache

4. जरुरी एप्स को ही करें इंस्टॉल

एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम में एप्स को इंस्टॉल करना काफी आसान होता है। लेकिन, ऐसा जरुरी नहीं कि फोन में सभी एप्स को इंस्टॉल किया जाए। ऑनलाइन ऐसे कई एप्स मौजूद हैं जो आपके डिवाइस के रैम और स्टोरेज को कम करते हैं। ऐसे में, अपने एंड्रॉयड डिवाइस में हमेशा उन्ही एप्स को इंस्टॉल करें जो आपके लिए जरुरी हो।

5. उन एप्स को अनइंस्टॉल करें जिनका इस्तेमाल नहीं करते

जैसा कि हमने पहले ही बताया कि एंड्रॉयड डिवाइस में एप्स को इंस्टॉल करना काफी आसान होता है। ऑनलाइन ऐसे कई एप्स मौजूद हैं जो आपके फोन के स्पेस को कम करते हैं और आपके डिवाइस की स्पीड को धीमा कर देते हैं। ऐसे में अपने फोन में केवल उन्हीं एप्स को इंस्टॉल करें जो जरुरी हो। वहीं, जिन एप्स का आप ज्यादा इस्तेमाल नहीं करते उन्हें अपने फोन से डिलीट कर दें।

6. अनावश्यक विजेट्स को करें रिमूव

कई यूजर्स अपने एंड्रॉयड डिवाइस में विजेट्स का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं। आपको बता दें कि ये विजेट्स आपके स्मार्टफोन की स्पीड को धीमा कर सकते हैं। ये विजेट्स आपके फोन के रैम को कम करता है।

Remove unnecessary widgets

7. डिवाइस के एनिमेशन्स करें डिसेबल

सभी एंड्रॉयड डिवाइस में एनिमेशन स्केल मौजूद होते हैं जो उनकी क्वालिटी के आधार पर होते हैं। ये एनिमेशन्स आपके एंड्रॉयड डिवाइस के बैटरी और परफॉर्मेंस पर काफी प्रभाव डालते हैं। हालांकि, इनका एंड्रॉयड डिवाइस की परफॉर्मेंस पर भी असर पड़ता है। इसलिए, इसका इस्तेमाल कम करना चाहिए। इसे बंद करने के लिए आपको फोन की सेटिंग – डेवलपर ऑप्शन > विंडो ट्रांसिशन स्केल – 0.0 को सिलेक्ट करना होगा। इसी तरह आप फोन के एनीमेशन स्केल को भी बंद कर सकते हैं।

8. अपने एंड्रॉयड के फर्मवेयर को करें अपडेट

एंड्रॉयड डिवाइस की स्पीड में तेजी लाने के लिए हमेशा इसके नए फर्मवेयर को अपग्रेड करते रहना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि हर नए अपडेट में कुछ नया दिया हुआ होता है जो आपके डिवाइस को पहले से ज्यादा बेहतर बनाता है। इसलिए आपके एंड्रॉयड डिवाइस को लेटेस्ट वर्जन से अपडेट करते रहना चाहिए। इसके लिए फोन के About Phone ऑप्शन में जाकर लेटेस्ट अपग्रेड को चेक कर लें।

9. ऑटो सिंक को करें डिसेबल

अगर आपका एंड्रॉयड डिवाइस कई अकाउंट्स जैसे कि व्हाट्सएप, स्नैपचैट, जीमेल, ऑउटलुक से कनेक्टेड है तो आपको फोन के ऑटो सिंक फीचर को बंद कर देना चाहिए। ऑटो-सिंक फीचर आपके फोन की परफॉर्मेंस को कम करती हैं। साथ ही, इससे आपके फोन की बैटरी भी ज्यादा खर्च होती है।

Disable Auto Sync

10. बैकग्राउंड रनिंग एप्स करें रिमूव

कुछ एप्स डिवाइस के शुरु होते ही काम करने लगते हैं। ऐसे में ये एप्स फोन के बैकग्राउंड में चलते रहते हैं। इन एप्स के कारण भी आपके एंड्रॉयड डिवाइस की परफॉर्मेंस धीमी होती है। साथ ही, फोन की स्पीड भी कम होती जाती है। ऐसे में फोन में चलने वाले इन एप्स को रिमूव कर देना चाहिए।

लेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति Maststuff.com उत्तरदायी नहीं है. इस लेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार Maststuff.com के नहीं हैं, तथा Maststuff.com उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

Check Also

इस कंपनी से बर्दास्त नहीं हुई जिओ की खुशी तो खटखटाया भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग का दरवाजा

दूरसंचार नियामक ट्राई ने रिलायंस जियो की मोबाइल सेवा के लिए वायस कॉल व डेटा …

Leave a Reply