amazon

shopclues

myntra

Home / Tech / इस कंपनी से बर्दास्त नहीं हुई जिओ की खुशी तो खटखटाया भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग का दरवाजा

इस कंपनी से बर्दास्त नहीं हुई जिओ की खुशी तो खटखटाया भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग का दरवाजा

दूरसंचार नियामक ट्राई ने रिलायंस जियो की मोबाइल सेवा के लिए वायस कॉल व डेटा शुल्क दर योजनाओं को क्लीनचिट दे दी है.शायद यह बात  भारती एयरटेल कंपनी बर्दास्त नहीं कर पा रही है.भारती एयरटेल ने भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग का दरवाजा खटखटाया है. एयरटेल ने जियो पर आरोप लगाया है कि वह दूरसंचार बाजार में प्रतिस्पर्धा समाप्त करने के लिए मुफ्त सेवाओं के साथ ‘बाजार बिगाड़ने वाले शुल्कों’ की पेशकश कर रही है.

गौरतलब है कि बाजार भागीदारी के हिसाब से देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी एयरटेल ने रिलायंस जियो पर अपनी मजबूत स्थिति का दुरुपयोग करने का आरोप भी लगाया है. उल्लेखनीय है कि पिछले महीने रिलायंस जियो ने मौजूदा दूरसंचार कंपनियों पर कथित तौर पर गैर प्रतिस्पर्धी गतिविधियों का आरोप लगाते हुए सीसीआई में शिकायत की थी.

Also Read: लड़की ने छोड़ी इंजीनियरिंग और अब रोज़ लगा रही शमशान के चक्कर, जानें क्यों

वहीं रिलायंस जियो ने पलटवार करते हुए एक बयान में कहा है कि उसकी सभी शुल्क दर योजनाओं को दूरसंचार नियामक द्वारा ‘उचित ठहराया जा चुका है इसलिए इन्हें बाजार बिगाड़ने वाला नहीं कहा जा सकता.’ जियो का आरोप है कि एयरटेल खुद द्वारा लाइसेंस शर्तों के उल्लंघन के मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए इस तरह के आरोप लगा रही है.

Also Read: जब भगवान शिव की परछाई कैद हुई तस्वीर में

सीसीआई पहले आरोपों की वरीयता तय करता है और प्रथम दृष्टया प्रतिस्पर्धा नियमों का उल्लंघन पाये जाने पर ही विस्तृत जांच का आदेश दिया जाता है.

Leave a Reply